​              Ram Rahim: जेल से बाहर आते ही राम रहीम ने हनीप्रीत को लेकर किया ये काम , कही ये बड़ी बात..
   
 

Ram Rahim: जेल से बाहर आते ही राम रहीम ने हनीप्रीत को लेकर किया ये काम , कही ये बड़ी बात..

Mkyadu
3 Min Read
Ram Rahim
Ram Rahim haniprit

Dera Chief: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम ने जेल से बाहर आते ही डेरे की गद्दी को लेकर बात कही है कि, ‘हम हैं, हम थे और हम ही इस गद्दी पर रहेंगे.’ साथ उन्होंने हनीप्रीत का भी नाम बदल दिया है.

Whatsapp Channel
Telegram channel

Ram Rahim: राम रहीम ने हनीप्रीत जिसे वे अपनी मुंह बोली बेटी मानते थे उसके नाम में बदलाव कर ‘रूहानी दीदी’ रख दिया है. 

इससे पहले राम रहीम अपनी दो शिष्याओं से बलात्कार करने के आरोप के बाद 20 साल की सजा काट रहे हैं, पिछले दिनों ही वे जेल से 40 दिनो के पैरोल पर बाहर निकले हैं. 

लेकिन आदमपुर विधानसभा सीट और हरियाणा में पंचायत उपचुनाव से पहले ऐसे अचानक राम रहीम को मिली पैरोल पर कई सवाल खड़े हो गए हैं.

 राम रहीम के डेरे की गद्दी को लेकर भी सवाल पूछे गए. जिस पर राम रहीम ने कहा कि, ‘हम हैं, हम थे और हम ही इस गद्दी पर रहेंगे.’ ये घोषणा उन्होंने यूपी में मौजूद बरनावा आश्रम में साधु जनों को संबोधित करते हुए कहा.

Haryana news Ram Rahim: हरियाणा में होना है निकाय चुनाव

हरियाणा में कुछ ही समय बाद निकाय चुनाव होने वाले जिसके लिए कई नेता राम रहीम के सत्संग में आशीर्वाद लेने पहुंच रहे हैं. 

जेल से निकलते ही राम रहीम ने  सोशल मीडिया पर अपना एक वीडियो शेयर कर अपने सभी समर्थकों को मैसेज दिया. साथ ही सोशल मीडिया के जरिये सत्संग भी किया. 

यह सत्संग यूपी से ऑनलाइन किया गया, जिसमे करनाल जिले के कई साधु जन शामिल हुए, इसी दौरान पंचायत चुनाव के उम्मीदवारों ने भी उनसे आशीर्वाद लिया.

RamRahim : कौन कौन हुए सत्संग में शामिल ?

उनके इस सत्संग में करनाल नगर निगम की मेयर रेणु बाला गुप्ता, जिला अध्यक्ष योगेंद्र राणा, डिप्टी मेयर नवीन कुमार तथा सीनियर डिप्टी मेयर राजेश ने भी इस संबोधन में हाजिरी लगाई और बाबा को करनाल आने का निमंत्रण दिया.

सत्संग में शामिल करनाल नगर निगम के सीनियर डिप्टी मेयर ने कहा कि.यूपी के बागपत से बाबा ने ऑनलाइन सत्संग किया गया था. उन्ही के बुलावे पर ही सभी संगत के साथ मिलना जुलना हुआ. मेरे वॉर्ड से कई लोग बाबा जी के साथ जुड़े हुए हैं.

Ram Rahim : क्यों मिला था राम रहीम को सजा

डेरा प्रमुख राम रहीम और उनके साथ तीन अन्य लोगों को 16 साल से भी अधिक समय पहले एक पत्रकार की हुई हत्या के मामले को लेकर 2019 में दोषी करार दिया गया था.

Share This Article
Leave a comment