​              RCB मैनेजमेंट पर भड़के Virendra Sehwag, कहा - खिलाड़ियों को नहीं आती अंग्रेजी...
   
 

RCB मैनेजमेंट पर भड़के Virendra Sehwag, कहा – खिलाड़ियों को नहीं आती अंग्रेजी…

Mkyadu
3 Min Read

Ipl 2024 में RCB क निराशाजनक प्रदर्शन चिंता का कारण बना हुआ है। इसी बीच अब दिग्गज क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और मनोज तिवारी ने इस सीजन में आऱसीबी के हल्के प्रदर्शन पर अपना बयान दिया है.. आइए जानते है उन्होंने क्या कहा …

Whatsapp Channel
Telegram channel

सहवाग की नजर में आरसीबी के खराब प्रदर्शन की सबसे बड़ी वजह है आरसीबी में भारतीय सपोर्ट स्टाफ की कमी। सहवाग को लगता है कि इससे घरेलू खिलाड़ियों को खुद को जाहिर करने में परेशानी हो रही है। वो अपनी बात नहीं रख पा रहे।

बता दें कि एंडी फ्लावर RCB के हेड कोच हैं। और एडम ग्रिफिथ गेंदबाजी कोच हैं और दोनों ही विदेशी हैं। साथ ही टीम के सपोर्ट स्टाफ में भी कई विदेशी लोग भरे पड़े हैं। इसी पर सहवाग ने कहा कि इससे rcb के स्क्वॉड में शामिल जो भी भारतीय खिलाड़ी है वे खुद की भावनाओं को ठीक से व्यक्त भी नहीं कर पा रहे।

rcb मैनेजमेंट पर फूटा वीरेंद्र सहवाग का गुस्सा

क्रिकबज पर सहवाग ने कहा, ” आपके पास यदि 12-15 भारतीय और सिर्फ 10 विदेशी हैं और फिर आपका पूरा स्टाफ विदेशियों से बना हुआ है, तो यही एक मुद्दा है। उनमें से कुछ ही इंटरनेशनल खिलाड़ी हैं, बाकी अन्य सभी भारतीय हैं और उनमें से आधे अंग्रेजी भी नहीं समझत पाते हैं। भला आप उन्हें कैसे प्रेरित कर पाएंगे? उनके साथ समय कौन बिताता है? कौन उनसे बातचीत करता है? आरसीबी में मुझे एक भी भारतीय सपोर्ट स्टाफ नहीं नजर आता है। कम से कम कोई तो रहता जिस पर खिलाड़ी भरोसा कर पाते।”

तो दूसरी ओर, मनोज तिवारी ने भी RCB फ्रेंचाइजी पर सवाल उठाते हुए कहा, “मुझे पता है कि परेशानी कहां पर है। ipl की नीलामी से लेकर मैनजमेंट तक। इस फ्रेंचाइजी के सारे बेहतरीन खिलाड़ी दूसरी टीमों के लिए खेलने जाते हैं। उन्हीं में से एक है इस सीजन में सबसे अधिक विकेट लेने वाला गेंदबाज युजवेंद्र चहल। आप उनको जाने देते हैं। Virat Kohli की कप्तानी पर भी आप कायम नहीं रह पाए।साल 2016 के फाइनल में उन्होंने पहुंचाया था।

Share This Article