​              Telangana Students Suspended: तेलंगाना यूनिवर्सिटी में हुआ बवाल, 80 छात्राएं हुई सस्पेंड.. जुनियर को..
   
 

Telangana Students Suspended: तेलंगाना यूनिवर्सिटी में हुआ बवाल, 80 छात्राएं हुई सस्पेंड.. जुनियर को..

Mkyadu
3 Min Read

Telangana Students Suspended: तेलंगाना यूनिवर्सिटी में बड़ी संख्या में छात्राओं को सस्पेंड किया गया,जिसके बाद से मामला और भी काफी सुर्खियों में है…

Whatsapp Channel
Telegram channel

80 Students Suspendes in Telangana:   Telangana University में अपने जूनियर छात्राओं पर कथित तौर पर ‘‘गाना गाने और उन्हें नृत्य करने’’ के लिए दबाव डालने के आरोप में पोस्ट ग्रेजुएशन की कुल 80 छात्राओं को छात्रावास से एक सप्ताह के लिए सस्पेंड किया गया है.

शनिवार को अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी. University के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, पोस्ट ग्रेजुएशन के 80 छात्राओं पर अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू करते हुए उन्हें छात्रावास से एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया गया है.

अधिकारियों के द्वारा बताया गया कि वारंगल जिले के काकतीय university के वाणिज्य और जंतुविज्ञान विभागों के पोस्ट ग्रेजुएशन के कुछ छात्राओं के द्वारा हाल ही में आयोजित हुए परिचयात्मक कार्यक्रम के बाद फिर से 18 दिसंबर को अपने जूनियर्स से संस्थान के ही महिला छात्रावास में एक बार फिर से परिचय देने के लिए कहा,लेकिन सभी जूनियर्स ने ऐसा करने से इंकार कर दिया.

अधिकारियों के अनुसार, इस मामले पर छात्राओं ने university के अधिकारियों से इसकी शिकायत की. कुछ ने तो यह भी आरोप लगाया कि सीनियर ने उन्हें गाना गाने और नृत्य करने का भी ‘‘दबाव’’ डाला. जिसके बाद मामले में अधिकारियों ने जांच कराई, उसी के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन की 80 छात्राओं को निलंबित करने की कार्यवाही हुई।

पूरे मामले पर वाइस चांसलर ने क्या कहा?

University के वाइस चांसलर रमेश ने मामले को लेकर कहा कि हमने 80 छात्राओं को जूनियर्स को प्रताड़ित करने और उन पर दबाव डालने के आरोप के चलते हॉस्टल से सस्पेंड कर दिया है.

जूनियर्स की ओर से हमें इसकी शिकायत मिली थी कि जबरदस्ती डांस करने और गाना गाने का उनपर दबाव डाला जाता है, जो कि सही नहीं है.

सिर्फ इतना ही नहीं अपनी शिकायत में जूनियर बच्चों ने  बताया कि आधी रात के वक्त उन्हें बुलाकर परेशान किया गया. इसी कारण से हमने 80 छात्राओं को एक हफ्ते के लिए निलंबित किया  है. दोबारा यदि कोई रैगिंग में शामिल होते मिलता है तो उनके खिलाफ उचित और कड़ी कार्यवाही होगी।

Share This Article