​              Kuruganti Apsara Murder: पहले अवैध संबंध, फिर गटर में मिली बॉडी... पुजारी ही निकला अपनी भांजी का कातिल,खुद के झूठ से फसा..
   
 

Kuruganti Apsara Murder: पहले अवैध संबंध, फिर गटर में मिली बॉडी… पुजारी ही निकला अपनी भांजी का कातिल,खुद के झूठ से फसा..

Mkyadu
4 Min Read

हैदराबाद से दिल को झकझोर देने वाला एक मामला सामने आया है, जहां एक मंदिर के पुजारी ने अपनी ही भांजी को मौत के घाट उतार दिया,और पुलिस को गुमराह करने के इरादे से मनगढ़ंत कहानी रची,लेकिन वह खुद अपने बयानों से फस गया,आखिर क्या है पूरा मामला आइए जानते हैं…

Whatsapp Channel
Telegram channel

शाम के समय हैदराबाद के राजीव गांधी एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन पर एक शख्स दस्तक देता है,अपनी वेशभूषा व माथे पर तिलक से वह पुजारी जान पढ़ता था, वह घबराता हुआ पुलिस को ये सूचना देता है की उसकी भांजी कहीं मिल नहीं रही है.

उस व्यक्ति ने अपना नाम अय्यागिरी साई कृष्णा बताया,जो की सुरूर नगर का निवासी है और वह मंदिर का पुजारी है.अपनी भांजी की गुमशुदगी का रिपोर्ट दर्ज कराते हुए वह पुलिस से गुहार लगाता है की, वे जल्द से जल्द उसकी भांजी को ढूंढ निकाले.

पुजारी ने सुनाई पुलिस को मनगढ़ंत कहानी

 साईं कृष्णा नाम के इस व्यक्ति ने बताया कि उसकी भांजी कुरूंगती अप्सरा को अपने दोस्तों के साथ भद्राचलम जाना था,इसलिए उसने अपनी भांजी को दो दिन पहले ही शमशाबाद में ड्रॉप कर दिया था।

 लेकिन इसके बाद से ही उसकी भांजी कुरुंगती अप्सरा गुम हो गई,उससे किसी भी तरह से कोई संपर्क नहीं हो पा रहा है.फोन भी बंद है.

CCTV से पुजारी की खुल गई पोल

जैसा कि पुजारी ने अपने बयान में बताया था की सरूरनगर इलाके से अप्सरा उसके साथ निकली थी, पुलिस सरूरनगर इलाके के कुछ सीसीटीवी को खंगालते जाते हैं। 

पुजारी के बयान के अनुसार ही सीसीटीवी में दिखता है कि उसने अप्सरा को वहां से पिक किया है,जिसके बाद पुलिस उस जगह पर पहुंचती है जहां पुजारी ने बताया कि उसने अप्सरा को कहां छोड़ा था, वहां भी CCTV खंगाली जाती है, लेकिन यहां पुजारी की पोल खुल जाती है,सीसीटीवी में कोई भी फुटेज नही दिखता है,जिसमे वह अपनी भांजी को कही ड्रॉप कर रहा हो.

बस फिर क्या था पुजारी अपने ही बयान से पुलिस के लपेटे में आ गया,और पुलिस के सख्त पूछताछ में पूरी तरह टूट कर उसने सब सच्चाई ही उगल डाली.

पुजारी के थे अपनी भांजी से अवैध संबंध

दरअसल,पिछले काफी वक्त से पुजारी और इसकी भांजी में प्रेम संबंध थे । चूंकि पुजारी पहले से शादी-शुदा था और इसके दो बच्चे भी है। तो अप्सरा ये जिद करने लगी की वह अपनी पत्नी को छोड़ दे और उसके साथ घर बसाए.इसके बाद पुजारी ने उसे समझाने की काफी कोशिश भी करी,लेकिन वह मानने के लिए तैयार नहीं थी.

मौका देखकर भांजी की कर दी हत्या

मौका देखते हुए पुजारी ने अप्सरा को शमशाबाद के एक सुनसान जगह में ले जाकर एक बड़े व भारी पत्थर से उसकी हत्या कर डाली,और लाश अपनी कार के डिग्गी के जरिए मंदिर के पीछे ले आया.

मंदिर के पीछे ही गटर में उसने अपनी भांजी के शव को डाल दिया,और सीमेंट से उसे बंद करवा दिया। फिर किसी को शक न हो इसके लिए वह अपनी बहन के साथ अप्सरा की तलाश में लग गया, लेकिन सीसीटीवी ने उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया.

Share This Article
Leave a comment